Breaking News
Home / Religion / BAHAI

BAHAI

देश की पहली सोलर चाय की दुकान शुरू हुई…ग्राम सनावदिया में जिम्मी मगिलिगन सेंटर फॉर सस्टेनेबल डेवलपमेंट के प्रयासों का कमाल

#SolarTeaStall #FirstSolarTeaStallIndia #JimmyMcgilliganCentre #JanakDidi #SolarChai #Indore देश की पहली सोलर चाय स्टाल  इंदौर के ग्राम सनावादिया में  First Solar Tea Stall of the Country in Indore ग्राम सनावदिया से हैं एक युवा , जिनक नाम है लोकेश प्रजापत , इन्हें श्रेय जाता है देश की पहली सोलर चाय स्टाल स्थापित करने …

Read More »

कलियुग में सम्पूर्ण विश्व को एक करने वाले अवतार की घोषणा करने वाले अवतार महात्मा बाब का शहीदी दिवस ९ जुलाई को

९ जुलाई को बहाई धर्म के अनुयायी ईश्वरीय अवतार महात्मा बाब का शहीदी दिवस मनाएंगे | . बाब- बहाई धर्म के अग्रदूत ईरान के शिराज़ शहर में जन्मे महात्मा बाब ने २३ मई १८४४ को यह घोषणा की थी कि वे ही चिर-प्रतीक्षित अवतार हैं जो इस युग में होने …

Read More »

रिजवान पर्व : बहाई धर्म का सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण १२ दिवसीय पर्व १९ अप्रैल से

. बहाई धर्म का सबसे बड़ा पर्व : रिजवान . यह पृथ्वी एक देश है और सम्पूर्ण मानवजाति इसकी नागरिक है. इस वाक्य को मानने वाले  सम्पूर्ण विश्व के बहाई धर्म अनुयायियों  रिज़वान पर्व मनाएंगे |  . रिजवान का महत्व. रिजवान १२ दिनों का त्यौहार है, बहाई कैलेण्डर (बदी कैलेण्डर) …

Read More »

19 दिनों के व्रत के बाद बहाई मनाएंगे नव वर्ष – नवरोज़ : एक अनोखी कम्युनिटी, जो है एकता की शानदार मिसाल

ओहइंदौर .कॉम | विशेष | बहाई नव वर्ष | समीर शर्मा  . आध्यात्मिक गुणों के लिए १९ दिनों के उपवास और फिर नववर्ष का त्यौहार . बहाई नव वर्ष – नवरोज़  मनाया जायेगा 20 march 2017  को  www.bahai.org  . 1-19 मार्च तक निर्जल सुबह से शाम तक कठिन व्रत रख …

Read More »

बहाई उपवास : विश्वशांति और एकता के लिए रख रहे हैं बहाई अनुयायी उपवास , १-१९ मार्च तक

समीर शर्मा | बहाई धर्म | उपवास | इंदौर “यह पृथ्वी एक देश है और मानवजाति इसकी नागरिक” – बहाई पवित्र लेख  बहाई  उपवास प्रारम्भ १ से १९ मार्च  १ माह यानि १९ दिन के उपवास  बहाई कैलेण्डर जिसे “बदी पञ्चांग ” भी कहा जाता है , के  अनुसार उपवास …

Read More »

बहाई धर्म के अवतारों का जयंती उत्सव – महात्मा बाब और बहाउल्लाह का जन्मदिवस

बहाई धर्म के अवतारों का जयंती उत्सव: बहाई धर्म, उन्नीसवीं सदी के ईरान में 186३  में स्थापित एक नया धर्म है जो एकेश्वरवाद और विश्वभर के विभिन्न धर्मों और पंथों की एकमात्र आधारशिला पर ज़ोर देता है। इसकी स्थापना बहाउल्लाह ने की थी और इसके मतों के मुताबिक दुनिया के …

Read More »