Breaking News
Home / Education / DAVV / डॉ नरेन्द्र धाकड़ – २५वे कुलपति देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के

डॉ नरेन्द्र धाकड़ – २५वे कुलपति देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के

डॉ. नरेन्द्र धाकड़ – नए कुलपति 
13 साल के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार  देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी को आखिरकार स्थानीय कुलपति मिल ही गया। शनिवार को राजभवन ने डॉ. नरेंद्र धाकड़ को कुलपति बनाने का आदेश जारी किया।
इंदौर निवासी डॉ. धाकड़ होलकर कॉलेज के प्राचार्य रह चुके हैं। उनका नाम कुलपति पद के दावेदारों में काफी समय से चर्चा में था। उन्हें स्थानीय होने का लाभ भी मिला और उनके राजनीतिक संपर्क ने भी इस नियुक्ति में उनकी मदद की। कुलपति चयन कमेटी द्वारा पांच नामों का पैनल तैयार कर राजभवन भेजा गया था। इसी के अाधार पर डॉ. धाकड़ के नाम का ऐलान किया गया।
Dr-Narendra-Dhakad-293x220

डॉ. धाकड़ के मुताबिक वह वह मां की मार और डांट का डर था जिसकी बदौलत मैं पढ़ा और यहां तक पहुंच सका। बचपन में ही मां अंग्रेजी राज के किस्से और गांधीजी की कहानी सुनाती थीं। मां खुद पढ़ी-लिखी नहीं थी लेकिन डपटकर स्कूल पहुंचाती थीं। कहती थीं अनपढ़ रहे तो अंग्रेज राज करने आ जाएंगे और पढ़-लिख गए तो गांधीजी जैसे बन जाओगे।

डॉ. धाकड़ के अनुसार मेरी मां शांतिदेवी के हाथ के खाने को लेकर उतावला रहता था लेकिन उनकी डांट और पिटाई से उतना ही खौफ खाता था। उस वक्त स्कूल जाने पर कोई जोर नहीं देता लेकिन वे स्कूल नहीं जाने पर पिटाई कर देती थीं। उन्होंने गुलाम भारत देखा था। मुझे बचपन में अंग्रेजों के जुल्म और गांधीजी की यात्राओं की कहानियां सुनाती थीं।

 

डॉ नरेन्द्र धाकड़ का मास्टर प्लान :
– समय पर परीक्षा करवाकर तय समय-सीमा में रिजल्ट जारी करना।
– विवि की शैक्षणिक गुधवत्ता में सुधार लाना।
– कर्मचारियों के नियुक्त विवाद काे सुलझाना।
– छात्रों की समस्याओं को सुलझाना।
– गुटबाजी को खत्म करते हुए विवि के हित में सबको साथ लेकर चलना।
 .
 Few Facts about Dr Dhakad :
Dhakad is the 25th vice chancellor of the university that was established in 1964. A retired professor of zoology, Dhakad had served as a principal for about 25 years at many government colleges including Holkar Science College, Bhind College, Mhow College and Dewas College before assuming charge as AD at local office of Department of Higher Education about six years ago.
He represented principal secretary (higher education) in the DAVV’s executive council for six years.
Best of Luck from Team Oh Indore !
वामन हरी पेठे, इंदौर

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com
error: नी भिया कापी नी करने का ...गलत बात