Breaking News
Home / Education / सनावादिया के युवाओं का रक्षाबंधन – प्रेरणादायक प्रयास

सनावादिया के युवाओं का रक्षाबंधन – प्रेरणादायक प्रयास

युवाओं ने दिया नया रक्षा-सूत्र इस रक्षाबंधन पे 

इंदौर से महज ७-८ किमी पर स्थित सनावादिया , जनसंख्या लगभग २५०० | देव गुराडिया  पहाड़ी के पीछे पर शायद अच्छे कार्यों में सबसे आगे खड़ा यह गाँव आज अपने युवाओं की वजह से फिर से चर्चा में  है | 

तो किस्सा यूँ हैं कि कुछ वर्ष पूर्व  में बहाई पद्मश्री जनक पलटा मगिलिगन (जनक दीदी) ने जबसे अपना निवास स्थान और जिम्मी मगिलिगन सेंटर स्थापित किया  है तब से ही उन्होंने इस गाँव को गोद ले लिया और गाँव ने भी उनहे अपनी दीदी स्वीकार करने में देरी नहीं दिखाई | और फिर शुरू हुआ गाँव का कायाकल्प …

दीदी ने बच्चो के शिक्षा , स्वास्थय और नैतिक आचरण पर कार्य शुरू किया और गाँव के युवाओं , बड़ों और महिलाओं ने उन्हें भरपूर सहयोग दिया, इसी का नतीजा रहा कि यहाँ के युवा हमेशा कुछ अच्छा और अनुकरणीय कर पा रहे हैं | 

अरुण , एक स्थानीय युवा, जनक दीदी के आह्वान पर रोजाना सुबह बच्चो को मुफ्त ट्यूशन्स  देते हैं , इनके बारे में आगे आने वाले समय में पूओरी कहानी आपको पढने को मिलेगी , और आज आपको हम बताने जा रहे हैं हेमेन्द्र , यश, सुरपाल, सुनील , अभिषेक, रवीना , विजय , राजेंद्र जी , प्रेम जोशी जी द्वारा इस रक्षाबंधन पर अपनी बहन -बेटियों को दिए गए अनूठे रक्षा सूत्र के बारे में | 

इन युवाओं ने जनक दीदी के साथ मिलकर इस राखी पर ६५ से ज्यादा पौधे लगाए है | सनावादिया रोड और वाही स्थित एक गौशाला में लगाये गए पौधों को लगाकर , ट्रीगार्ड से उन्हें सुरक्षित किया और यह वादा किया की इन्हें बढ़ा कर ही दम लेंगे | 

sanavadiya2

 

 

प्रेम जोशी जी ने त्रिवेणी (बड, पीपल और नीम ) को किस तरह ईकोफ्रेंडली तरीके से लगायें यह सभी को  सिखाया |  रह पर कहदी बहनों और मुसाफिरों को छांह मिले इस नेक ईरादे और पर्यावरण  और  पृथ्वी को मिले  इस अद्भुत योगदान ने सनावादिया के इन युवाओं के आधुनिक और आदर्श चरित्र  का एक उदाहरण पेश किया है शहर के युवाओं के लिए जो पर्यावरण की रक्षा सिर्फ़ फेसबुक और व्हाटस एप पर ही करते हैं या फिर सेल्फी के माध्यम से | 

इंदौर के युवाओं को चाहिए की वे सनावादिया जाकर इन युवाओं और जनक दीदी से मिलें  और सीखें  की कैसे कर्मो को शब्दों से ज्यादा रखा जाए | 

सलाम सनावादिया यूथ्स और जनक दीदी | 

टीम ओह इंदौर ..

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com

ये भी तो देखो भिया !

आर्गेनिक कलर्स बनाना सीख कर, भर रहीं हैं महिला सशक्तिकरण का रंग इस होली पर : जिम्मी मगिलिगन सेंटर फॉर सस्टेनेबल डेवलपमेंट सनावदिया इंदौर पर

Share this on WhatsApp समीर शर्मा | जिम्मी मगिलिगन सेंटर फॉर सस्टेनेबल डेवलपमेंट | सनावदिया, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


*