Breaking News
Home / Food / मलाई मार के नमकीन चाय की चुस्कियां बम्बई बाज़ार में

मलाई मार के नमकीन चाय की चुस्कियां बम्बई बाज़ार में

इंदौर में नमकीन चाय की चुस्कियां

इंदौर…खाने पीने के शौक़ीन लोगों का शहर …. खाने और पीने में एक नंबर  भिया ……

चाय , मसाला-दूध, रबड़ी, शिकंजी, ज्यूस, अंटी-सोडा, भांग, मिर्चीना, नीम्बू पानी, ठंडाई और न जाने क्या क्या …

तो आज चलिए ओह! इंदौर की टीम आज आपको एक स्पेशल चाय की चुस्की का लुत्फ़ दिलवाएगी… और लीजिये  हम आ गए एक बहुत ही पारंपरिक मुस्लिम ईलाके में जो की “बंबई बाज़ार / बॉम्बे बाज़ार ” के नाम से प्रसिद्द है ….

bombaybazarindore

 

चारों ओर लज़ीज़ और ठेठ मुस्लिम तरीके से पके खाने की दुकानें , ठेले और ठिये …. इन सबके बीच हर आदमी की पसंद और ज़रूरत है इक अदद चाय की प्याली और हाँ वो भी  नमकीन और गुलाबी चाय कोयले की सिगड़ी पे बनी और मलाई से सजी …

हिन्दू-मुस्लिम-सिख-ईसाई-बहाई जो भी हो …..इसके कायल हैं और इन सबको एक कर देती है ये चाय की प्याली जिसको बड़े ही अदब और प्यार से बनाते हैं  –”करीम साहब की होटल वाले भाईजान”

img_3555_small

 

करीम होटल की सिगड़ी पे कोयले की धीमी -धीमी आंच पर पकती ईरानी तरीके से समोवार में(एक बर्तन जो ईरान  और रूस में चाय बनाने के काम में लिया जाता है )बनाई गई चाय, फिर उसमे ताज़ा गर्मागर्म दूध और मलाई जैसे ही डाला जाता है , झक्क सफ़ेद कप-बशी में आपके हाथों में जैसे ही आता है आपके मुह पे हल्की सी ख़ुशी और मुस्कान आ ही जाती है.

ठंड के मौसम में ये चाय एक स्वर्गिक एह्सास करा देती है…. इसमें होता है हल्का सा नमक का टिंच जो एकदम से मालूम नहीं पड़ता ..पर गजब का काम करता है ….लोग पूरे परिवार के साथ आते हैं यहाँ पर…. 

img_3562

 

इन्दोरी लोग सुबह-शाम और देर रात तक इसका लुत्फ़ लेते हैं….

२ आने से शुरू हुई  इस चाय की कीमत आज भी 5 रुपये है पर और  मल्टीनेशनल काफी हॉउस और रेस्टोरेंट इससे उम्दा स्वाद से बहुत पीछे हैं….

गरीब , अमीर , जवान और बूढ़े सभी इसके कायल और इसके रूहानी स्वाद से घायल हैं.

img_3574_small

रात में एक बार ज़रूर जाईये बम्बई बाज़ार में – करीम साहब के इस ठिये पर

टीम ओह! इंदौर , यह स्टोरी आपको कैसी लगी , हमें ज़रूर बताएं  : ohindore@gmail.com

इंदौर में नमकीन चाय की चुस्कियां इंदौर…खाने पीने के शौक़ीन लोगों का शहर …. खाने और पीने में एक नंबर  भिया …... चाय , मसाला-दूध, रबड़ी, शिकंजी, ज्यूस, अंटी-सोडा, भांग, मिर्चीना, नीम्बू पानी, ठंडाई और न जाने क्या क्या … तो आज चलिए ओह! इंदौर की टीम आज आपको एक स्पेशल चाय की चुस्की का लुत्फ़ दिलवाएगी… और लीजिये  हम आ गए एक बहुत ही पारंपरिक मुस्लिम ईलाके में जो की “बंबई बाज़ार / बॉम्बे बाज़ार ” के नाम से प्रसिद्द है ….   चारों ओर लज़ीज़ और ठेठ मुस्लिम तरीके से पके खाने की दुकानें , ठेले और ठिये …. इन सबके…

User Rating: 4.03 ( 4 votes)
वामन हरी पेठे, इंदौर

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com
error: नी भिया कापी नी करने का ...गलत बात