Breaking News
Home / ATM / कैशलेस ट्रांसेक्शन कैसे करें ? क्या – क्या हैं तरीके …बनिए स्मार्ट , हम हैं आपके साथ

कैशलेस ट्रांसेक्शन कैसे करें ? क्या – क्या हैं तरीके …बनिए स्मार्ट , हम हैं आपके साथ

Indore | Sameer Sharma | Digital Payment | 10-12-16

 

भारत बदल रहा है , अर्थव्यवस्था में कई बदलाव और भारत की जनता की अर्थ व्यवस्था और तंत्र भी बदल रहा है | डिजिटल क्रांति के एक बड़े परिवर्तन का साक्षी है यह समय, आप और मैं …

हमें एक दुसरे का साथ और सहयोग लगेगा , भारत सरकार को सहयोग देने और भारतवासियों को इसी दिशा में आगे ले जाने के लिए | इसीलिए यह लेख श्रृंखला है , जैसा की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी ने कहा है की “हमें अपग्रेड तो होना ही है हमें इस अभियान का नेतृत्व भी करना है |” पार्टी , राज्य के बन्धनों से मुक्त होकर हम देश हित में इस अभियान हेतु साथी नागरिकों को शिक्षित और प्रशिक्षित करें | 

…….तो इसलिए राष्ट्रहित और राष्ट्रसेवा के भाव से मेरा सहयोग डिजिटल पेमेंट्स , कैशलेस इकोनोमी और ट्रांसेक्शन के लिए अपने साथी नागरिकों को सहयोग करना है | मेरे अपने अर्जित ज्ञान और जानकारी आपके लिये उपलब्द्ध है , इसके लिए वर्कशॉप के लिए भी मैं और मेरी टीम आपके लिए उपलब्द्ध है |

आशा है आपको यह प्रयास अच्छा लगेगा और हम -आप मिलजुलकर आगे बढ़ेंगे |

 पहला आर्टिकल : 

 

कैशलेस व्यवहार के लिए सबसे पहले

यह जान लें कि आपको क्या करना ज़रूरी है :

 

  • बैंक में जाकर अपना KYC (क्नो योर कस्टमर ) यानि आपका खाता जानकारी अपडेट करवा लें |
  • अपना फोन नंबर अपडेट करवा लें
  • मोबाईल फोन के नंबर को अकाउंट से लिंक करवा ले
  • अपाने आधार कार्ड को अपने बैंक से अटैच करवा लें |
  • यदि स्मार्ट फोन है तो अपने फोन में अपने बैंक की सुरक्षित और आधिकारिक एप डलवा ले |
  • यदि साधारण फोन है तो बैंक जाकर यूएसएसडी की कोड सूची लें आयें |

 

सबसे महत्वपूर्ण बात :

  • फोन नंबर अब बहुत आवश्यक और महत्वपूर्ण है , इसका आधार कार्ड और बैंक अकाउंट से जुडा  होना अत्यंत ज़रूरी  है |

 

कैशलेस भुगतान के पांच सुरक्षित तरीके हैं : 

डिजिटल भुगतान का पहला तरीका | कैशलेस बनिए 

  • कार्ड्स के माध्यम से ( डेबिट / एटीएम / क्रेडिट कार्ड्स / POS कार्ड्स )
    1. जिन्हें पीओएस कार्ड्स ( पॉइंट ऑफ़ सेल ) भी कहते हैं |
    2. यह आपका बैंक का एटीएम कार्ड हो सकता है , या क्रेडिट कार्ड भी |
    3. SBI , ICICI , AXIS , स्टेट बैंक , को –ओपरेटिव बैंक या अन्य बैंक के वीसा, मास्टर , रुपे कार्ड्स

 

 

डिजिटल भुगतान का दूसरा तरीका | कैशलेस बनिए 

  • आधार कार्ड से इनेबल्ड पेमेंट/ भुगतान का तरीका
    1. इसमें आपका आधार कार्ड आपके बैंक अकाउंट से जुड़ जाता है |कैशलेस इकोनॉमी को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने एक और बड़ा प्रयास किया है। अब आपका आधार कार्ड आपके एटीएम की जगह ले सकता है। इसमें चौंकने जैसी कोई बात नहीं है। आप सोच रहे होंगे कि आधार कार्ड से पैसे कैसे निकलेंगें ? तो हम आपको बता दें कि जैसे ATM डेबिट कार्ड के लिए एटीएम मशीने होती हैं वैसे ही आधार कार्ड के लिए आधार माइक्रो एटीएम है। इस आधार माइक्रो एटीएम से आप पैसे निकाल सकते हैं।

 

डिजिटल भुगतान का पहला तरीका | कैशलेस बनिए 

  • UPI यूनीफाईड पेमेंट इंटरफेस (UPI) के माध्यम से
    • UPI यूनीफाईड पेमेंट इंटरफेस को कहते हैं जो पारंपरिक एनईएफटी या आईएमपीएस ट्रांसफर से अलग है। इसके माध्यम से किसी भी बैंक खाते से किसी अन्य बैंक खाते में मोबाइल फोन के माध्यम से तुरंत पैसे भेजे जा सकते हैं। यूपीआई को एनपीसीआई (भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम) ने विकसित किया है जिसके एनईएफटी और आईएमपीएस प्रणाली पर फिलहाल बैंकों के बीच पैसों का लेन-देन किया जाता रहा है।

 

 

डिजिटल भुगतान का चौथा  तरीका | कैशलेस बनिए 

 

  • प्रीपेड ई वालेट्स
    1. कैशलेसहोने की शुरुआत क्रेडिट-डेबिट कार्ड से होकर अब ई-वालेट तक पहुंच चुकी है। अब आपका मोबाइल ही आपका बटुआ या वालेट है। मोबाइल रिचार्ज करने से लेकर आटो रिक्शा को किराया देने तक का काम इसके जरिए मुमकिन है।    जैसे की पेटीएम, फ्री-चार्ज, OKPAY , पेयू –मनी, एसबीआई बडी आदि

 

डिजिटल भुगतान का पांचवा  तरीका | कैशलेस बनिए 

  • USSD कोड बैंकिंग
    1. मोबाइल बैंकिंग को और आसान बनाने के  लिए भारत सरकार ने USSD Banking नाम से एक नयी सुविधा शुरू की है | यह बैंकिंग सुविधा मोबाइल फ़ोन में *99# डायल करके प्रयोग की जा सकती है इसीलिए इसे *99# Banking कहते हैं |
    2. ये उनके लिए हैं जिनके पास
      1. Netbanking की सुविधा नहीं है |
      2. इन्टरनेट नहीं है |
      3. साधारण फोन है |

तब आप USSD Code की सहायता से किसी भी साधारण फ़ोन पर Online Payment कर सकते हैं। National Unified USSD Platform (NUUP) सर्विस के माध्यम से 5000 रुपए तक की राशि एक खाते से दूसरे खाते में ट्रान्सफर की जा सकती है और यह Transaction बिना किसी इन्टरनेट सेवा का इस्तेमाल किए की जा सकती है। USSD Code के जरिए Online Payment करना उतना ही सरल है जितना कि आपके मोबाइल में बैलेंस चेक करना या SMS भेजना।

 

आपको इन सभी पांचो तरीकों के पूर्ण व्यवहार तरीकों को विस्तार में अगली पोस्ट में बताया जाएगा |

आप इस हेतु हमें ईमेल करें ohindore@gmail.com 

 

  • समीर शर्मा | 9755012734  
Indore | Sameer Sharma | Digital Payment | 10-12-16   भारत बदल रहा है , अर्थव्यवस्था में कई बदलाव और भारत की जनता की अर्थ व्यवस्था और तंत्र भी बदल रहा है | डिजिटल क्रांति के एक बड़े परिवर्तन का साक्षी है यह समय, आप और मैं ... हमें एक दुसरे का साथ और सहयोग लगेगा , भारत सरकार को सहयोग देने और भारतवासियों को इसी दिशा में आगे ले जाने के लिए | इसीलिए यह लेख श्रृंखला है , जैसा की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी ने कहा है की "हमें अपग्रेड तो होना ही है हमें इस अभियान…

User Rating: 4.66 ( 4 votes)
Indore Ka Raja - Ganeshotsav

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com

ये भी तो देखो भिया !

USSD से बैंकिंग , बिना इन्टरनेट और बिना स्मार्ट फोन , सीखे आसानी से – यूएसएसडी

Share this on WhatsApp समीर शर्मा | इंदौर | डिजिटल पेमेंट | कैशलेस  इंडिया  *99# …