Breaking News
Home / Food / सराफा की सैर – इंदौर की आन-बान-शान और पहचान

सराफा की सैर – इंदौर की आन-बान-शान और पहचान

चलो सराफा : गर्मा-गर्म भुट्टे का कीस और बड़ी जलेबी 🙂

भिया … ठण्ड आ रही है… अगर गरमा गर्म  भुट्टे का कीस , जलेबी मिल जाए तो मतलाब स्वर्ग इंदौर के सराफे के अलावा कही नहीं , कही नहीं , कही नही है….

आप समझ गए !  तो इंदौर के फेमस सराफा की सैर हो जाए …

lets go to the virtual tour with real photographs of Srafa by our “Khau team” “खाऊ टीम”…

Sarafaindore

 

 

“Bhuttee ka kees ” ” Corn Kees ” सराफा के बीच में पहुँचते ही भुट्टे के कीस वाले फेमस “अनिल भिया” …क्या कीस बना रिये है “एक नंबर ” बिलकुल …

पीतल के बड़े से थाल पे भाप से धीरे धीरे पकता हुआ भुट्टे का कीस…और उसपे जीरवन, नीम्बू और धनिये खोपरे का गार्निश ,….आआअ हाह आःहा ….

भिया बड़े बड़े उलझ गए इस किस में…. सॉरी कीस में 

इन दिनों भुट्टे के आवक भी है और जावक भी ….कम से कम दो प्लेट तो आदमी खाता ही है ….लेडीस ओन तो पार्सल भी करवाना नहीं भूलती …

अनिल भिया के “किस “ओह सॉरी “कीस” के जैसा ही फेमस उनकी रगडा पेटिस भी है जो इस ठंडे मौसम में अलाव के गर्म अहसास से कम नही …करारी पेटिस और छोले ….इसे ज़रूर ट्राय  करें.

Petis

 

जैसे ही भुट्टे का कीस ख़तम हुआ …..अब नंबर है बड़ी जलेबी का …….जी हाँ बड़ी जलेबी ….आपने एक पूरी खाई तो अप पक्के इन्दोरी नहीं तो…..समझ लो ..

jalebee

बड़े सराफा की गली पे  मौजूद हैं २ बड़ी जलेबी की दुकाने…सिर्फ आर्डर पे बनाई जाती हैं और स्वाद में बेजोड़…देसी घी की इस जलेबी ने पूरे सराफा को हिला रखा है …बच्चे ख़ास तौर पे इसे भूलते नहीं…

हमें यहाँ पर एक पक्का इन्दोरी परिवार मिला, हमें फोटोशूट करते  देख  उन्होंने एक बड़ी जलेबी बनवाई और पूरे परिवार के साथ खाई भी…भाई वाह खाने के सच्चे कद्रदान , सच्चे इन्दोरी सिर्फ सराफा में ही पाए जाते हैं…इनका फोटो तो यहाँ देना बनता है ,…:)

Family

और हाँ  जाते जाते शिवगिरी स्वीट्स पे मसाला , केसरिया, बादाम और पिस्ता ओटा हुआ मसाला दूध ज़रूर पी लेना बनता है

doodh
सराफा के फेमस इन ठीयों को हर इन्दोरी का सलाम ….

नोट : डाईट फ़ूड हैबिट्स वाले,  जीरो फिगर की ख्वाहिश रखने वाली लड़कियां , आंटी लोग  और कैलोरी कॉन्शियस लोग इस लेख से ही जी भर लें ..कृपया सराफा न जाएँ |

जनहित में जारी – ओह इंदौर की खाऊ टीम 

वामन हरी पेठे, इंदौर

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com
error: नी भिया कापी नी करने का ...गलत बात