Breaking News
Home / Automobile / Renault Kwid – सबसे ज्यादा माईलेज देने वाली नई और स्टाईलिश कार …

Renault Kwid – सबसे ज्यादा माईलेज देने वाली नई और स्टाईलिश कार …

रेनो क्विड – Renault Kwid 

एक नई और धांसू कार सिर्फ ३-४ लाख में 

भारतीय बाज़ार में Duster के ज़रिए Renault ने एक अच्छी पहचान बना ली है। Renault अब तक 1.2 लाख Duster भारत में बेच चुकी है और साथ ही साथ भारत के कार मार्केट शेयर में 2 फीसदी की हिस्सेदार भी बन चुकी है। लेकिन अब कंपनी की कोशिश है कि ये मार्केट शेयर बढ़ाकर 5 फीसदी किया जाए। इसलिए कंपनी को भरोसा है कि Kwid की मदद से वो ये लक्ष्य हासिल कर सकते हैं।  Kwid की बुकिंग और डेलिवरी  शुरू हो चुकी है|  

Renault Kwid नई हैचबैक है जिसे बिल्कुल नए डिजाइन पर तैयार किया गया है। ‘SUV’ की तरह दिखने वाली Kwid की डिजाइनिंग में कई बातों का ख्याल रखा गया है। Renault Kwid को देखने के बाद पता चलता है कि इस गाड़ी को डिजाइन करने में कितनी मेहनत की गई है। Kwid 98 फीसदी भारत में तैयार की गई है और डेवलपमेंट का काम करीब 80 फीसदी Renault के भारतीय इंजीनियरों ने किया है। साफ है कि कंपनी ने बाज़ार को समझने की कोशिश की है और उसी के मुताबिक कार को डिजाइन किया है, लेकिन सबसे खास बात है इसकी कीमत। क्योंकि Kwid की कीमत 3 से 4 लाख रुपए के बीच है।

 

सबसे ज्यादा माइलेज देने वाली कार 

Renault का दावा है कि Kwid 25.17 किलोमीटर प्रति लीटर का माइलेज देगी। अगर ऐसा है तो फिर Kwid देश की सबसे ज्यादा माइलेज देने वाली कार बन सकती है। इन सारी खूबियों के लिए Kwid का कम वज़न एक बड़ी वजह है। Renault के लोगों ने इसको पूरा करने के लिए काफी मेहनत की है। Kwid का इंजन ब्लॉक अल्युमीनियम से तैयार किया गया है वहीं मैनिफोल्ड और हेड में प्लास्टिक का इस्तेमाल किया गया है। इसकी वजह से करीब दो किलो वजन कम हुआ है। प्लास्टिक ऑयल पैन का वजन एक किलो कम किया गया है। साथ ही साथ कई पुर्जों में कमी करके करीब 8 किलो वजन कम किया गया है। उदाहरण के लिए, Kwid में सिर्फ तीन व्हील लग्स और सिर्फ एक विंडशिल्ड वाइपर लगाया गया है।

Renault Kwid को अक्टूबर 2015 में लॉन्च किया गया था जिसके बाद से ही इस कार की बंपर बुकिंग हो रही है। पहले 2 महीने में ही इस कार के 10,600 यूनिट बिक गए। बंपर बुकिंग की वजह से देश के कुछ राज्यों में Renault Kwid का वेटिंग टाइम 10 महीने तक बढ़ गया। घरेलू बाज़ार में पहले 4 महीने में इस कार को 2 लाख बुकिंग मिली थी।

इस डिमांड को पूरा करने के लिए Renault ने इस कार का प्रोडक्शन बढ़ाकर 6,000 यूनिट प्रति माह कर दिया था। लेकिन मार्च 2016 से इसे बढ़ाकर 10,000 यूनिट प्रति महीने किया जा रहा है। Renault Kwid और Renault Duster को दिसंबर 2015 में टॉप-10 बेस्ट सेलिंग कार की लिस्ट में भी जगह मिली थी।

test drive

 

मारुती और रेनो क्विड में अंतर 

दोनों ही कारों में 3-सिलिंडर 800cc इंजन लगा है। लेकिन, Renault Kwid का इंजन 53 बीएचपी की ताकत देता है तो वहीं Alto का इंजन 47 बीएचपी की ताकत देता है। वहीं, Alto K10 का इंजन बड़ा है इसलिए वो 66 बीएचपी की ताकत देता है। हालांकि, इंजन स्टार्ट होने के बाद Alto के मुकाबले Kwid ज्यादा स्थिर है। गियरबॉक्स के मामले में Alto आगे है। Alto का गियरबॉक्स Kwid से ज्यादा बेहतर है।

अगर हैंडलिंग और राइड क्वालिटी की बात करें तो यहां भी Kwid ने बाज़ी मारी है। Renault Kwid ड्राइव के वक्त Alto की तुलना में ज्यादा आत्मविश्वास देती है। कॉर्नर पर भी Kwid का कंट्रोल ज्यादा बेहतर है। जो लोग पहली बार छोटी कार खरीदते हैं उन्हें स्पेस के साथ समझौता करना पड़ता है, लेकिन Kwid के आने के बाद ये समस्या थोड़ी कम हो सकती है। क्योंकि, Renault Kwid में जिस तरह स्पेस का ख्याल रखा गया है, ग्राहकों को ये बात जरूर लुभा रही है।

ओवरड्राइव का विडिओ रीव्यु
कुल मिलकार, Renault ने Kwid के रूप में एक बेहतरीन प्रोडक्ट बाज़ार में उतारा है जो Maruti Suzuki Alto को टक्कर देते दिख रही है। छोटी कारों के सेगमेंट में Kwid एक बेहतरीन प्रयास है। Kwid के आने के बाद इस सेगमेंट में प्रतिस्पर्धा और भी बढ़ गई है। अब देखना ये होगा कि Kwid को टक्कर देने के लिए Maruti Suzuki और Hyundai क्या तैयारी कर रहीं हैं।

 

 

 

– Team ohindore.com | ओहइंदौर.कॉम  

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com