Breaking News
Home / Education / एक बच्चे को स्कूल तक पहुंचाने का मौका आपके द्वारा …RTE के तहत फ्री में एडमिशन में करें मदद

एक बच्चे को स्कूल तक पहुंचाने का मौका आपके द्वारा …RTE के तहत फ्री में एडमिशन में करें मदद

 

 

कितना पुण्य कार्य होगा कि एक बच्चा जिसके पास पढ़ने के लिय पर्याप्त साधन नही हैं और सरकार की योजना और आपके सिर्फ फॉर्म भर देने के सहयोग भर से वह पढने जाना शुरू कर दे और शायद कल अब्दुल कलाम, कल्पना चावला , वैज्ञानिक, डॉक्टर या बिजनेसमैन बन जाए …

 

.

किसी बच्चे को शिक्षित करना या उसमे मदद करना ,

सबसे आशिर्वादित सेवा का कार्य है… 

– बहाई पवित्र लेखो से 

 

.

जी हाँ एक मौक़ा आया है इस नेक अभियान में हिस्सा लेने का ..परदेश की सरकार ने शिक्षा के आदिकार नियम के तहत ज़रूरतमंद बच्चों (गरीबी की रेखा से नीचे , निशक्त , दिव्यांग , वन-जनजाति ) के लिए मुफ्त में कक्षा नर्सरी , प्राइमरी  और पहली में एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन प्रारंभ कर दिया है |

क्या करना है ? 

अपने आसपास के ज़रूरतमंद परिवारों को इसकी सूचना देकर , उनके फॉर्म ऑनलाइन भरकर आप अपने यहाँ काम करने वाली महिला-पुरुषों , ड्राईवर, माली, सफाई कर्मचारी या कोई भी जो शिक्षा के लिए अपने बच्चों कोम स्कूल भेजने  में समर्थ नहीं पाता है,  उनकी मदद करें …देखे फिर कैसे हमारा समाज इस सहकार से  आगे बढ़ता है |

.

बस इतनी सी मदद चाहिए :

इंदौर में आज से RTE के तहत एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन प्रारंभ हो गए हैं | आपको इस लिंक पर  जाकर उनके फॉर्म भर देने में मदद करनी है अपने घर, दफ्तर या साईबर कैफ़े से  

http://www.educationportal.mp.gov.in/RTESR/Lottery/Public/OnlineApplication.aspx

 

कलेक्टर श्री नरहरि  , शिक्षा  विभाग और डोनेट योर टाइम द्वारा इस कार्य में ओह इंदौर भी अपनी सेवाएँ दे रहा है |

आप इस सम्बन्ध में कोई भी सहायता के लिए व्हाट्स एप पर संपर्क करें : 9755012734 

 

 

आप अपने आप को डोनेट योर टाइम पर वोलेंटियर के रूप में रजिस्टर भी कर ले  : www.donateyoutime.in 

– समीर शर्मा 

सिटी पोर्टल इस कार्य में इस अभियान का निशुल्क प्रचार प्रसार करेगा |

वामन हरी पेठे, इंदौर

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com

ये भी तो देखो भिया !

इंदौर कलेक्टर पी.नरहरि ने प्रोत्साहित करने हेतु दिखाई २५० लड़कियों को “दंगल” फिल्म

Share this on WhatsApp इंदौर कलेक्टर पी. नरहरि का एक और सराहनीय और अनुकरणीय प्रयास  …

error: नी भिया कापी नी करने का ...गलत बात