Breaking News
Home / Lifestyle / Artifacts / विशाल जोशी : इंदौर के युवा कलाकार जो अपने गुणों से पहुंचे अंतर्राष्ट्रीय फलक पर , इंदौर के कला जगत को दे रहा नई चमक और पहचान

विशाल जोशी : इंदौर के युवा कलाकार जो अपने गुणों से पहुंचे अंतर्राष्ट्रीय फलक पर , इंदौर के कला जगत को दे रहा नई चमक और पहचान

समीर शर्मा | इंदौर आर्ट्स | कला जगत 

No automatic alt text available.

इंदौर कला जगत से उभरे एक अंतर्राष्ट्रीय आर्टिस्ट  

इंदौर कला जगत बड़ा धाकड़ रहा है , इस कड़ी में एक युवा कलाकार अपनी मेहनत , कला साधना , अपने सरल और सधे  दृष्टिकोण से आगे बढ़ता है , सरकारी ललित कला महाविद्यालय से फाइन आर्ट करके , पेंटिग्स बना कर , प्रदर्शनीयों में हिस्सा लेकर धीमे-धीमे , लगातार और चैतन्य प्रयासों से …..

स्थानीय गुटबाजी , खींचतान को दिमाग में जगह न देकर सिर्फ ध्यान लगता है अपने काम पर …..और छा जाता है भारत ही नहीं देश विदेश के कला जगत में …नाम है विशाल जोशी 

इस  इन्दोरी ने अपने आर्ट से भारत के सभी महानगरों के अलावा , दुबई, लन्दन , बार्सिलोना , वेनिस, कोरिया ,  न्यूयॉर्क , पाकिस्तान तक धूम मचा दी है …

 

विनम्रता , सतत प्रयास और लक्ष्य से न भटकने का परिणाम है कि नोटबंदी और “रिसेशन” जैसे शब्दों से भरे हुए आज के बाज़ार में इस कलाकार का पूरा शो बिकता है वो भी अपनी शर्तों पे …..हैं न कमाल ?

…और तो और उन्होंने इसका फ़ॉर्मूला भी मुझसे बातों-बातों में साझा कर लिया ताकि उनके शहर के उन प्रतिभाशाली नए कलाकार छात्रों को वो सब से न गुजरना पड़े और उन्हें आसान राह मिल जाए …

 

 

क्या है सफलता का विशाल-मंत्रा …

विशाल का कहना था कि उन्होंने कभी भी नकारात्मक सोच -विचार -मित्र -कार्यों से कभी हाथ नहीं मिलाया , अपना दर्शन इस मामले में साफ रखा चाहे उसमे प्रारम्भिक दिक्कते आईं …पर आखिर में आर्टिस्ट अपने काम से और सबसे बड़ी बात अपने तरीकों से और अपनी सोच और दृष्टिकोण पहचाना जाता है , और इसी ने मुझे सफलता , नाम , काम और पैसा सब दिलवाया …

विशाल जोशी जब यह बोल रहे थे तो  उनकी बात करने की प्रभावी शैली , धीमे गति पर साफ़ आवाज़ के वाक्य और उनका अनुभव  साफ़ झलक  रहा था ,जो उन्होने अपने करियर में कमाया ….

 

परिवार के सहयोग को अपने ऊपर ईश्वर की कृपा बताते हुए विशाल बताते हैं कि इंदौर जैसे शहर में जहाँ ज्ञान और कला दोनों बहुत हैं , अच्छे कलाकार भी फिर भी  आगे नहीं बढ़ पाते और आज  के कई कलाकार अपने आर्थिक और प्रोफेशनल पहलू  में काफ़ी संघर्ष कर रहे हैं | विशाल अब मुंबई में सैटल हैं पर इंदौर के कला जगत और यहाँ के कलाकारों से जीवंत संपर्क और उनके साथ प्रदर्शनीयां करते रहते हैं | अभी भारत भवन, भोपाल में उनकी प्रदर्शनी ३० अप्रैल २०१७ तक लगी हुई है |

Image may contain: 1 person, standing

 

क्या सोचते हैं विशाल :

Image may contain: 1 person, standing and indoor

 

कलाकार / पेंटर / आर्टिस्ट वो नहीं जिसके बिखरे बाल , लंबा कुर्ता , सिगरेट और शराब का साथ हो ….

मैंने अपने आप को इस नए ज़माने के साथ अपडेट रखा , अपनी भाषा पर मेहनत  की , कलाकारों के काम को खूब देखा और उसे समझने की कोशश  की , अपनी आलोचनाओं को कभी नकारात्मक नहीं बल्कि और अच्छा करने के लिए लिया  , इन्टरनेट पर अपने कार्यों को अनगिनत संथाओं , गैलेरीज़ पर पोस्ट किया , खूब सारे लोगो , बायर्स , आर्किटेक्ट से मिला और अपना काम दिखाया , यानि कि खूब और जी तोड़ मेहनत की और ईश्वर ने इसे आशिर्वादीत  किया …

अपने आप को मैंने सभी व्यसनों से दूर रखा , और अपने व्यक्तित्व पर भी मेहनत  की है | मेरे परिवार ने जिसमे मेरे माता-पिता , भैया-भाभी और मेरी धर्मपत्नी ने मुझे अनकंडीशनल सपोर्ट दिया क्यूंकि मैंने हमेशा सही काम किया , कभी राह से भटका नहीं … ये हम सभी की मिलीजुली सफलता है | 

इंदौर के नए कलाकार साथियों के लिए विशाल के सुझाव :

  1. अपना परिचय क्षेत्र बढायें , खुलकर लोगों से मिलें और सीखें |
  2. विनम्रता से आप सभी के साथ अपने संबंधों को बनाये रख सकते हैं |
  3. अपनी भाषा पर ध्यान दें , इंग्लिश साहिय्त्य भी बहुत अच्छा है, अपनी हिंदी और अंग्रेज़ी दोनों पर काम करें. 
  4. इंटरनेट जैसे टूल्स से अंतरर्राष्ट्रीय इवेंट्स , आर्ट पेपर्स, आर्टिस्ट्स के बारे में पढ़ें |
  5. अपने फ्रेंड सर्कल / आर्ट सर्कल जो की सकारात्मक है चुने , खीचतान, बुराई की जगह दूसरों को प्रोत्साहित करें और व्यर्थ के बातचीत और बहस में समय न नष्ट करें |
  6. अपने सीनियर्स से सदैव संपर्क में रहें और अपनी गलतीयों में सुधार करते जाएँ | 
  7. पैसा रुकावट नहीं , आप काम पे ध्यान दें |
  8. अपने व्यक्तित्व को निखारें , अच्छी संगत और लक्ष्य को न भूले |
  9. आपका व्यवहार आपकी पारी की लम्बाई निर्धारित करता है |

 

 

No automatic alt text available.

“स्पाइरल” है विशाल की प्रेरणा 

विशाल जोशी हमेशा से स्पाईरल के दीवाने है और यह उनकी प्रेरणा भी है , उनके कामों में यह भरपूर झलकता है |

विशाल कहते  हैं कि स्पाईरल “फ्लावर ऑफ़ लाइफ ” है , चाहे प्रकृति में देखें या आसपास , बवंडर में या डीएनए में ..

यह मुझे बहुत आकर्षित और प्रेरित करता है |

.

क्या कहते हैं विशाल के मित्र कलाकार उनके बारे में 

.

वरिष्ठ कलाकार श्री राजेश शर्मा जी  (पप्पू जी) कहते हैं कि  “विशाल प्रयोगधर्मी है , चित्रकला के साथ ही उन्होंने अपने आप को इंस्टालेशन, फोटोग्राफी , डिजाइन में भी अच्छे से उभारा है | उनका प्रेसेंटेशन बढ़िया होता है “

.

Image may contain: 1 person

“विशाल अपने काम की क्वालिटी को लेकर बहुत कॉनशियस है , वो एक बेहतरीन इंसान और विजनरी आर्टिस्ट है | हमेशा दोस्तों  के लिए भी तैयार | ” मोहित भाटिया , आर्टिस्ट इंदौर 

.

विशाल हमेशा अपनी फेसबुक और ईमेल से अपने जूनियर्स और साथियों को  सहयोग के लिए उपलब्द्ध हैं  आप विशाल से बेझिझक संपर्क कर सकते हैं, और उनके चित्रों  की गैलेरी भी देख सकते हैं , इन माध्यमों से : 

Image result for facebook logoVishal Joshi  

हमारी शुभकामनाएं विशाल के साथ कि वे हमेशा सफल हों , 

विनम्र , सहयोगी ,और प्रयोगधर्मी बने रहें …बधाई विशाल 

समीर शर्मा 

 

 

वामन हरी पेठे, इंदौर

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com

ये भी तो देखो भिया !

Exhibition Review by Avadhesh Yadav – “कांफ्लुएंस” विविधता के चित्र

Share this on WhatsApp “कांफ्लुएंस”  विविधता के चित्र – एग्जिबिशन रिव्यू  इंदौर शहर कई मायनों …

error: नी भिया कापी नी करने का ...गलत बात