Breaking News
Home / Education / डेंगू से बचो – इंदौर में फ़ैल रहा है जानलेवा बुखार

डेंगू से बचो – इंदौर में फ़ैल रहा है जानलेवा बुखार

इंदौर में डेंगू बुखार तेज़ी से फ़ैल रहा है , प्रशासन के जिम्मे हम अपने स्वास्थय को नहीं छोड़ सकते हैं | खुद बचें और दूसरों को बचाएं|
 
डेंगू मामले में देश के मैप पर इंदौर रेड अलर्ट पर है … बहुत सचेत रहें ..ओह इंदौर की टीम आपके लिए लायें हैं एक बेसिक पर अत्यंत महत्वपूर्ण जानकारी …
 
डेंगू एक गंभीर बीमारी है जो संक्रमित मादा एडीज एजिप्टी मच्छर के काटने से फैलती है। यह ‘ब्रेक बोन फ़ीवर’ के नाम से भी जानी जाती है और काफ़ी दर्दनाक और दुर्बल करने वाली बीमारी है। इसके लक्षण मच्छर के काटने के  ४-१० दिन बाद दिखते हैं। इसमें मरीज के शरीर से प्लेटलेट्स कम होने लगते हैं और लगातार बुखार बना रहता है , सबसे आम लक्षण हैं:
  • तेज़  बुखार
  • गंभीर सिर दर्द
  • आंखों के पीछे दर्द
  • मतली
  • उल्टी
  • ग्रंथियों में सूजन
  • मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द
  • कुछ मामलों में त्वचा पर चकत्ते (रैश) पड़ना 
रक्तस्रावी बुखार और डेंगू शॉक सिंड्रोम इस बीमारी के और गंभीर रूप हैं। इस बीमारी का कोई स्पष्ट उपचार नहीं है और न ही इससे बचने के लिए कोई टीका है। इसलिए रोकथाम इलाज से बेहतर है। डेंगू से बचाव के लिए नीचे दिए गए १० सरल उपायों का पालन करें:
 
1. एडीज एजिप्टी मच्छर ज़्यादातर दिन में काटते हैं और खाली पड़े डिब्बों और गंदी जगहों में पैदा होते हैं। इसे रोकने के लिए अपने आस-पास कहीं भी पानी का जमाव न होने दें, उदहारण के लिए फ़ूलदान में पानी पड़ा न रहने दें और गमलों में ज़रुरत से ज्यादा पानी न भरें। भरे हुए पानी के बर्तनों को ढक कर रखें। 
 
2. खाली बाल्टी और बर्तनों को हर समय उल्टा करके रखें। 
 
3. दिन और रात के समय नियमित रूप से मच्छर-नाशकों का प्रयोग करें।  
 
4. सुनिश्चित करें कि घर के दरवाजे और खिड़कियों की जालियां फटी हुई न हों।  
 
5. यदि घर में कोई डेंगू से पीड़ित है, तो सुनिश्चित करें कि उन्हें या घर के किसी अन्य सदस्य को मच्छर न काटे।  
 
6. हमेशा मच्छरदानी लगाकर सोएं। 
 
7. अगर आप कूलर का उपयोग करते हैं तो नियमित रूप से पानी की ट्रे को साफ़ करें। 
 
8. कचरे के डिब्बे को हमेशा ढककर रखें।
 
9. मच्छरों को दूर रखने का एक प्राकृतिक उपाय है अपने घर की खिड़किओं के पास तुलसी के पौधे लगाना।  यह मच्छरों को पनपने से रोकते हैं। 
 
10. मच्छर भगाने का एक और अदभुत तरीका है कपूर का प्रयोग। अपने कमरे की खिड़कियां और दरवाज़ों को बंद करके कपूर जलाएं। १५-२० मिनट तक कमरे को बंद रहने दें। 
 
डेंगू से पूर्ण रूप से बचा जा सकता है। अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए इन सरल नुस्खों का प्रयोग करें।  

रोकथाम ही इलाज है:
हालांकि डेंगू को रोकने के लिए अभी तक कोई टीका नहीं है। बस, कुछ दिशा-निर्देशों को अपनाकर ही खुद और अपने परिवार के सदस्यों को बचाया जा सकता है। आप इसकी शुरुआत अच्छा स्वास्थ्य रखकर कर सकते हैं, जोकि काफी जरूरी भी है। इसके लिए घर में ध्यान दें कि दरवाजे और खिड़कियां अच्छे से बंद हों। ख़ासतौर से शाम के समय। जब आप घर से बाहर हो या फिर घर पर भी हो, तो मच्छर निरोधक क्रीम का इस्तेमाल करें। 
न्यूट्रिशनिस्ट और डाइटीशियन, डॉ. शिखा शर्मा सलाह देती हैं ”मच्छरों को दूर रखने के लिए आप घर में कपूर जला सकते हैं और पूरी बॉडी पर नीम का तेल लगाकर खुद को सुरक्षित रख सकते हैं। किसी भी इंफेक्शन से बचने के लिए हमें बॉडी की प्रतिरक्षा प्रणाली को बूस्ट करने की जरूरत है और यह खाने में विटामिन सी की मात्रा लेने से ही संभव है। एक चम्मच च्‍यवनप्राश, ताज़ी पकी हरी सब्जियां, ताज़ा और सफाई से बना नींबू पानी, आंवला और भारतीय गूज़बेरी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने के लिए कमाल कर सकती हैं। ”

 घर के किसी सदस्य को बुखार है, तो उसके कमरे को साफ रखना सबसे जरूरी काम है। यही नहीं, ऐसे में पूरा घर साफ रखना ही बेहतर रहता है। सफाई, स्वस्थ प्रतिरक्षा प्रणाली और उचित खुराक इस मॉनसून खुश रहने में आपकी मदद करेंगे।

तत्काल हॉस्पिटल या अपने फैमिली डॉक्टर को दिखाएँ और अपनी मर्जी से अपना या दूसरों का ईलाज़ न करें , ध्यान रखे… डेंगू जानलेवा है | 

Indore Ka Raja - Ganeshotsav

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com