Breaking News
Home / People / inspiration / क्या है ! आपके पास आपका “पैराशूट”? याद किया है आपने उसे कभी ?
Hand on shoulder, close-up

क्या है ! आपके पास आपका “पैराशूट”? याद किया है आपने उसे कभी ?

आपका “पैराशूट” :

(Whats App Message Story )

एयर कमोडोर विशाल एक जेट पायलट थे ।  

एक लड़ाई में उसके फाइटर प्लेन ने दुश्मन की सेना में बड़ा धमाल मचाई और शत्रु सेना का बहुत नुक्सान  कर दिया , उनके प्लेन के आते ही खलबली मच जाती थी |

उसी लड़ाई के दौरान एक हमले में  एक मिसाइल विशाल के फाईटर प्लेन पर लगी और उसका प्लेन क्रश होकर नष्ट हो कर गिरने लगा , अच्छी बात यह थी की समय रहते वह पैराशूट की सहायता से बाहर कूद गये और सुरक्षित लैंड कर गए । 

इस पर  विशाल की बहादुरी ने इस घटना  के बाद  कई अवार्ड जीते और  मेडल भी। 

 

5 साल बाद …….

एक दिन में एक रेस्टोरेंट में विशाल अपनी पत्नी के साथ बैठा था।

एक आदमी दूसरी टेबल से उसके पास आया और पूछा “आप कैप्टन विशाल हैं ना ? जो फाइटर प्लेन चलाते थे, जिस पर मिसाईल से हमला हुआ था !

विशाल ने आश्चर्य से पूछा ” लेकिन यह बात आपको कैसे पता”

वह आदमी मुस्कुराया और उस ने जवाब दिया “विशाल जी मैंने ही उस दिन आपका पैराशूट पैक किया था”….

 


विशाल आश्चर्यचकित हो गया और सुन्न भी …. उसने सोचा कि यदि उसका पैराशूट उस दिन काम नहीं किया होता तो शायद वह आज यहां नहीं होता, न मेडल्स होते न ही प्रमोशन और ना ही ये बेहतरीन ज़िन्दगी …
विशाल उस पूरी रात सो नहीं पाया वह उस आदमी के बारे में सोचता रहा

उसे सोचा मैंने इस आदमी को कितनी बार देखा पर कभी उसे यह नहीं कहा “गुड मॉर्निंग” या “आप कैसे हो”  या कुछ और क्योंकि मैं फाइटर पायलट था और वह आदमी सिर्फ एक सेफ्टी वर्कर।

सीख :

इसलिए दोस्तों यह हमेशा ध्यान रखें कि आपका पैराशूट कौन पैक कर रहा है,  यानि कि  हर आदमी के साथ ऐसा कोई है जो उसे वह देता  है जिससे हमारा जीवन चलता है या वह हमारे जीवन का एक अहम् हिस्सा है … माँ , पत्नी , दोस्त , भाई , शिक्षक ….

हमें जीवन में बहुत सारे पैराशूट्स की जरूरत पड़ती है ,जब हमारा ज़िन्दगी का प्लेन गिर जाता है…और तब   हमें कई बार फिजिकल पैराशूट लगता है ,कई बार मेंटल पैराशूट ,कई बार इमोशनल पैराशूट ,स्पिरिचुअल पैराशूट और फाइनेंशियल पैराशूट भी लगता है।

हम इन सब को सपोर्ट बोल सकते हैं सुरक्षित होने के पहले का सपोर्ट ….और कई बार जीवन की आपाधापी में हम कई बार हेलो ,प्लीज ,थैंक्यू कहना और किसी को बधाई देना भूल जाते हैं , यह भूल जाते हैं कि यह सब चीजें भी महत्व रखती हैं….

इस साल के आखरी महीने के आखरी हफ्ते उन लोगों को याद करिए जिन्होंने आपके जीवन में पैराशूट का काम किया है.  औइ उन सब लोगों को धन्यवाद दें जिन्होंने 2016 में आपका पैराशूट पैक करने में आपकी मदद की …

शब्दों से, भावनाओं से या किसी और तरीके से आपके लिए 2017 का रास्ता आगे बढ़ाया…

तो फिर इस बार अपने पैराशूट को भूल मत जाना …

 

(यह कहानी एक व्हाट्स एप मैसेज में फॉरवर्ड होकर आई थी जिसे यह रूप दिया है | इसके मौलिक लेखक का पता नहीं )

 

Indore, Indore City, इंदौर, Indore Events, Indore Food, People and Everything, Indori

वामन हरी पेठे, इंदौर

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com
error: नी भिया कापी नी करने का ...गलत बात