Breaking News
Home / Tech / जीमेल के नए फीचर्स – आपको बनाये स्मार्ट और रखे अपडेट

जीमेल के नए फीचर्स – आपको बनाये स्मार्ट और रखे अपडेट

विश्व की सबसे बड़ी इमेल सर्विस “जीमेल” गूगल द्वारा दी जा रही इस फ्री और पेड सर्विस ने पूरी दुनिया को एक करने में महती भूमिका निभाई है और सबसे ज्यादा सेफ, सुविधाजनक और फ़ास्ट इमेल सर्विस के चलते इसने सभी ईमेल सर्विसेस को बहुत पीछे छोड़ दिया है | पिछले ११ सालो से गूगल जीमेल की सुविधा दे रही है । पुरे विश्व मैं सबसे ज्यादा ९०० मिलियन अकाउंट गूगल के पास है ।

जीमेल के कई ऐसे फीचर्स हैं जो की यदि उपयोग में लाये जायें तो आपकी ईमेल अकाउंट की उपयोगिता और अधिक बढ़ जाती है और आपका कार्य सरल… – आज हम कुछ बेहतरीन जीमेल फीचर्स के बारे में जानेगे जिन्होंने जीमेल को इतना लोकप्रिय और युसर फ्रेंडली बनाया |

पॉप और आईमेप सिंक आप्शन

पहली बात जीमेल पॉप (POP) और आई मेप (IMAP) दोनों ईमेल सपोर्ट करता है | आपको चाहिए की आप यह अंतर जाने और अपनी ज़रुरत के मुताबिक़ सिलेक्शन सेटिंग्स में कर ले जिससे की आपको मोबाईल या थर्ड पार्टी अप्ल्लिकेशन जैसे की आउटलुक / थंडरबर्ड में इमेल एक्सेस की सुविधा मिल सके |

POP- पोस्ट ऑफिस प्रोटोकॉल यदि आपने सेट किया है तो इस सेटिंग में एक ही डिवाईस पर ईमेल डाउनलोड हो पाएंगे क्योंकि एक बार सर्वर से ईमेल डाउनलोड होने के बाद ऑनलाइन अकाउंट से ईमेल डिलीट हो जाती हैं |  POP सिंकिंग मेथड  पुल ईमेल सपोर्ट के लिए हैं, यानि की जब आप ईमेल चेक कर रिफ्रेश करेंगे तब ही ईमेंल्स आयेंगे | इसीलिए यह एक पुराना और कम उपयोग में आने वाला सिंकिंग मेथड है और अब धीरे धीरे कम होता जा रहा है | कम साईज के ईमेल बॉक्सेस में आज भी यह काफी लोकप्रिय है |

IMAP – Internet Messaging Access Protocol – आईमेप मेथड से आप मल्टिपल डीवाईसेस में ईमेल एक्सेस और डाउनलोड कर पाते हैं और सर्वर पर भी यह एक कॉपी के रूप में रहती है और आप जब तक डिलीट न करें ईमेल डिलीट नहीं होती | मोबाइल, डेस्कटॉप, टेबलेट्स पर एक साथ आप इसे सिंक रख सकते हैं | अत्यंत लोकप्रिय और पुश इमेल सपोर्ट वाले इस आप्शन को ही रेकमन्डेड मना जाता है |

जीमेल सेटिंग्स में जाकर फोर्वर्डिंग / पॉप आईमेप आप्शन में इसे सेट किया जा सकता है |

टू स्टेप वेरिफिकेशन , जीमेल को हैक होने से बचने का सुरक्षित तरीका :

कमजोर और सरल पासवर्ड होने पर अकाउंट हैक होने की संभावना सबसे अधिक होती है। पिछले साल की सिक्योरिटी रिपोर्ट के अनुसार  इंटरनेट पर अकाउंट की सुरक्षा से जुड़े 80 फीसदी मामले कमजोर पासवर्ड की देन थे। अधिकतर लोग अपना नाम या फोन नंबर पासवर्ड के रूप में इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में कोई भी बेहद आसानी से पासवर्ड का पता लगा सकता है। टू स्टेप वेरिफिकेशन का फीचर पासवर्ड लीक होने पर भी अकाउंट को सुरक्षित बनाए रखता है।

जीमेल में टू स्टेप वेरिफिकेशन की सुविधा है जो इन्हें बैंक अकाउंट जितना सुरक्षित बनाती है। इस फीचर को ऑन करने के बाद अकाउंट लॉग-इन करने पर आपके फोन नंबर पर वेरिफिकेशन कोड भेजा जाएगा। टू स्टेप वेरिफिकेशन फीचर के इस्तेमाल से आप अपने जीमेल अकाउंट को हैक होने से १००% बचा पाएंगे | इसके लिए एंड्राइड और आईफोन अप्प भी अवेलेबल है |

टू स्टेप वेरिफिकेशन फीचर ऑन करने के बाद पासवर्ड पता होने पर भी कोई अकाउंट में लॉग-इन नहीं कर पाएगा। इस फीचर को ऑन करने के बाद जैसे ही फेसबुक, ट्विटर या जीमेल पर लॉग-इन करेंगे तो इन साइट से यूजर के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर वेरिफिकेशन कोड भेजा जाएगा। इस कोड को सबमिट करने के बाद ही यूजर अपने अकाउंट को इस्तेमाल कर सकता है। यह फीचर बैंकिंग में इस्तेमाल होने वाले वन टाइम पासवर्ड की तरह काम करता है।

कैसे करे इसे ऑन :
जीमेल के लिए यह सुविधा शुरू करने के लिए सबसे पहले अपने मोबाइल नंबर को जीमेल से जोड़ना होगा। इसके लिए गूगल के सिक्योरिटी फीचर में जाएं। इसके लिए myaccount.google.com/security पर भी विजिट कर सकते हैं। इसके बाद नीचे की तरफ ‘पासवर्ड और साइन मैथड’ का विकल्प दिखेगा। इसके नीचे ‘टू-स्टेप वेरिफिकेशन’ का विकल्प आएगा। यहां क्लिक करने के बाद ‘स्टार्ट सेटअप’ पर क्लिक करें। नीचे अपना मोबाइल नंबर सबमिट करें। यहां वेरिफिकेशन के लिए टेक्स्ट के अलावा वॉयस कॉल का विकल्प भी दिया गया है। अपनी मर्जी का विकल्प चुन लें। इसके बाद हर बार लॉग-इन करने पर मैसेज या वॉयस कॉल के जरिए गूगल आपको वेरिफिकेशन कोड भेजेगा।

कीबोर्ड शोर्ट-कट्स

जीमेल में कुछ डिफॉल्ट कीबोर्ड शॉर्टकट्स दिए गए हैं जो आपके काम को और आसान बना देते हैं। आप चाहें तो अपनी सहूलियत के मुताबिक उन्हें बदल भी सकते हैं।

सेटिंग्स में जाकर कीबोर्ड शोर्त्कुट्स चुने और अपनी पसंद से शोर्टकट की असाईन करें हर एक्शन के लिए|

मेसेज में एक्स्टर्नल सर्विसेज प्रीव्यू

जीमेल के पास कुछ लैब्स हैं जिनकी मदद से आप विडियो, डॉक्युमेंट्स, वॉइसमेल और तस्वीरों को ईमेल्स में प्रीव्यू कर सकते हैं। मसलन, आपके किसी कॉन्टैक्ट ने आपको मेसेज में अड्रेस लिखकर दिया, तो गूगल मैप्स प्रीव्यू लैब खुद-ब-खुद आपको वह अड्रेस मैप पर दिखा देगी। इसके अलावा गूगल वॉइस, येल्प और पिकासा के लैब्स भी उपलब्ध हैं।

क्विक लिंक्स

क्विक लिंक्स को जीमेल लैब्स में इनेबल करने के बाद आपको बाईं तरफ एक बॉक्स दिखेगा जिसमें आप किसी भी बुकमार्केबल यूआरएल को सिर्फ एक क्लिक से ऐक्सेस कर सकेंगे।

अन्डू सेंड मैसेजेस

गलती से आपने कोई ईमेल सेंड कर दिया और आप उस गलती को ठीक करना चाहते अं तो जीमेल का ये ऑप्शन आपके लिए है , मार्च २००९ मैं गूगल ने पहली बार ‘ अनडू सेंड ‘ नाम का फीचर तैयार किया था , उसके बाद ६ साल बाद फिर एक बार गूगल ने ‘ अनडू सेंड ‘ नाम के फीचर को तैयार किया है । जिसमे जीमेल के यूज़र्स जब भी मेल भेजेगे तब ५ से ३० सेकंड के अंदर यूज़र्स को ‘ अनडू सेंड ‘ का बटन दिखायेगा । जिसके द्वारा रिकॉल यानि की सामने वाले को मेल नहीं मिलेगा । इ इस तरह इस फीचर मैं मेल सेंड करने वाली व्यक्ति से होने वाली बार बार की परेसानी से मुक्ति मिल जाएगी । पिछले महीने गूगल ने ‘ अनडू सेंड ‘ नाम का फीचर जीमेल मैं सेट किया था |

सामान्य रूप से हम जब भी मेल भेजते है तब जिनको मेल करना हो उनको पहोच जाता है । मगर अगले कुछ दिनों मैं जीमेल मैं मेल सेंड करने से पेहेले ‘ अनडू सेंड ‘ नाम का बटन दिखाई देगा जो यूज़र्स की आइटम भेजने मैं अगर कोई भूल रह गयी हो या मेल कैंसिल करना हो उसके लिए बहोत ही लाभदायक साबित होगी यानि की भेजने वाले मेल को ३० सेकंड के अंदर रिकॉल किया जा सकता है ।

  1. To enable Undo Send:
    1. Click the gear in the top right .
    2. Select Settings.
    3. Scroll down to “Undo Send” and click Enable.
    4. Set the cancellation period (the amount of time you have to decide if you want to unsend an email).
    5. Click Save Changes at the bottom of the page.

जीमेल पर अलर्ट्स

Google पर रोज करोडों लोग Search करते हैं, लेकिन अगर आप किसी खास Topic पर रोज गूगल पर Search करते हैं, तो आप Google Alerts का लाभ उठा सकते हैं, Google Alerts का प्रयोग कर आप किसी भी Topic का Email Alerts पा सकते हैं जैसे ही उस Topic के बारे में कोई Update हो।

आप किसी भी Topic पर Google Email Alerts पर सकते हो जैसे :-

किसी समाचार के बारे में

किसी राजनैतिक दल (Country party) के बारे में

किसी खेल या खिलाडी के बारे में

किसी खास विषय (Topic) के बारे में

किसी ब्‍लाग या बेवसाइट के बारें में

किसी नई मूवी या फिल्‍म स्‍टार के बारे में

किसी टीवी सीरीयल के बारे में

किसी गैजेट, मोबाइल फोन, लैपटॉप, या ऑपरेटिंग सिस्‍टम के बारे में

आईये जानते हैं कि  Google Email Alert को कैसे सेट किया जा सकता है –

अलर्ट सेट करने के लिये यहॉ क्लिक कीजिये या अपने ब्राउजर में Type कीजिये http://www.google.com/alerts यहॉ आपको एक Form दिखाई देगा, इसमें आपको खोज क्‍वेरी (Search query), परिणाम का प्रकार (Result type), कितनी बार (How often), किनते (How many) और इसको वितरित करें (Deliver to) आप्‍शन दिखाई देगें।

१- खोज क्‍वेरी (Search query) – यहॉ आपको वह शब्‍द Type करना है, जिसके लिये आपको Email Alert बनाना है।

२- परिणाम का प्रकार (Result type) – परिणाम का प्रकार यानि आप उस शब्‍द को समाचार, वीडियो, ब्‍लॉग या चर्चा में खोजना चाहते हैं, या अगर सभी प्रकार का अपडेट पाना चाहते हैं तो सभी को सलेक्‍ट कीजिये।

३- कितनी बार (How often) – आप दिन में कितनी बार अपडेट पाना चाहते हैं उसकी संख्‍या यहॉ सलैक्‍ट कीजिये।

४- किनते (How many) – आप उस शब्‍द के कितने अलर्ट पाना चाहते हैं, जैसे सभी या केवल खास परिणाम जो आपके शब्‍द से सटीक मैच खाता हो। यानि सर्व श्रेष्‍ठ परिणाम।

५- इसको वितरित करें (Deliver to) – यहॉ आप अपना ईमेल एड्रेस टाइप कीजिये, जिस पर Google Email Alert पाना चाहते हैं। अब अलर्ट बनायें बटन पर क्लिक कीजिये

 

 

 

Indore Ka Raja - Ganeshotsav

About Sameer Sharma

Founder and Editor, www.ohindore.com